WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

बरमान मेला में श्रद्धालुओं की सुविधाओं का पूरा ध्यान रखा जाये

आपको बता दे की नर्मदा तट पर बरमान में प्रतिवर्ष मकर संक्रांति के अवसर पर लगने वाले प्रसिद्ध मेले की प्रारंभिक तैयारियों के संबंध में महत्वपूर्ण बैठक कलेक्टर सुश्री ऋजु बाफना की अध्यक्षता में बरमान रेस्ट हाऊस में बुधवार को सम्पन्न हुई।

बैठक में विधायक श्री विश्वनाथ सिंह पटेल, पुलिस अधीक्षक श्री अमित कुमार, सीईओ जिला पंचायत श्री दलीप कुमार, जिला पंचायत उपाध्यक्ष श्रीमती अनीता ठाकुर, डॉ. हरगोविंद पटैल, श्री ब्रजेन्द्र पटैल, मेला समिति के सदस्य एवं अधिकारीगण मौजूद थे।

कलेक्टर सुश्री बाफना ने दिया आदेश

बैठक में कलेक्टर सुश्री बाफना ने कहा कि मेला में आने वाले श्रद्धालुओं की सुविधाओं का पूरा ध्यान रखा जायेगा, इसके लिए सभी आवश्यक व्यवस्थायें समय पर पुख्ता करने के लिए उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि अधिकारी सौंपे गये दायित्वों का समय पर निर्वहन सुनिश्चित करें।

आपको बता दे की उन्होंने कहा कि मेले के सफल आयोजन के लिए सभी का सहयोग जरूरी है। बैठक में स्थानीय नागरिकों और व्यापारियों से मेले की व्यवस्थाओं के संबंध में सुझाव लिये गये। बैठक में बताया गया कि मेले का उदघाटन 12 जनवरी को प्रस्तावित किया गया है आपको बता दे की शाम 5 बजे सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जायेगा और कार्यक्रम भव्य एवं गरिमामयी रूप में किया जाएगा सात ही मेले का समापन 31 दिसंबर को होगा।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

यह भी देखे : Nokia 1100 5g New Modal शानदार फीचर्स के साथ मार्केट में लांच देखे

रास्ता निर्माण एवं मरम्मत कार्य के लिए आवश्यक निर्देश दिये

आपको बता दे की बैठक में कलेक्टर सुश्री बाफ़ना ने मेला स्थल पर रास्ता निर्माण एवं मरम्मत कार्य के लिए आवश्यक निर्देश दिये गये। पुल पर पर्याप्त रोशनी की व्यवस्था सुनिश्चित की जाये जिससे श्रद्धालुओं को असुविधा नहीं हो।

आपको बता दे की बैठक में तय किया गया कि नर्मदा नदी में नाव में निर्धारित संख्या से अधिक व्यक्ति नहीं बैठ सकेंगे। नाव में जीवनरक्षक सामग्री जैसे लाइफ जैकेट, टार्च,रस्सी आदि उपलब्ध रहेंगे। स्थानीय गोताखोरों को रिफ्लेक्टेड लाइफ जैकेट प्रदान किये जायेंगे।

बरमान मेला में श्रद्धालुओं की सुविधाओं का पूरा ध्यान रखा जाये : कलेक्टर

मेला में पॉलीथिन का उपयोग पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगा

आपको बता दे किनबैठक में निर्देश दिये गये कि मेला में अस्थाई शौचालय, विद्युत और पेयजल की सुचारू व्यवस्था सुनिश्चित की जाये। महाआरती के लिए बेहतरीन मंच निर्मित किया जाये, गरिमामयी तरीके से महाआरती का आयोजन होगा। मेला स्थल पर पॉलीथिन का उपयोग प्रतिबंधित रहेगा। इसके विकल्प के रूप में कागज एवं कपड़े के थैलों का उपयोग किया जायेगा, इसमें स्वसहायता समूहों का सहयोग लिया जायेगा। दीदी कैफ़े का संचालन भी मेला परिसर में होगा।मिट्टी, गोबर एवं दोना पत्तल के दियों का उपयोग किया जायेगा।

यह भी देखे : MP Kisan News: मध्य प्रदेश के किसानों के लिए बड़ी खबर 41 लाख से बढ़कर 53 लाख हुई सिंचाई क्षमता जाने

साफ- सफाई पंचायत द्वारा कराई जायेगी

आपको बता दे की कलेक्टर ने मेला स्थल पर पार्किंग ,चिकित्सा व्यवस्था, आवश्यकतानुसार फायर बिग्रेड, कंट्रोल रूम, सीसीटीवी कैमरे, जनरेटर, शौचालय, मेला ले- आउट, घाटों की साफ- सफाई, मंदिरों की पुताई, मोटरबोट, तैराक आदि से संबंधित व्यवस्थाओं के बारे में संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया। उन्होंने मेला स्थल पर स्वच्छता रखने पर बल दिया। मेला के पूर्व नालियों की साफ- सफाई पंचायत द्वारा कराई जायेगी।

स्वच्छ पानी के टैंकर उपलब्ध कराए जाए

आपको बता दे की कलेक्टर ने स्वच्छ पानी के टैंकर पर्याप्त संख्या में उपलब्ध करवाने के लिए कहा। सतधारा घाट पर निर्मित पुराने पुल से आवागमन हेतु उपयुक्तता का प्रमाण पत्र पीडब्ल्यूडी से लिया जायेगा। मेले में जगह का ले आउट जनवरी माह के प्रथम सप्ताह के भीतर करने के निर्देश मेला समिति सचिव को दिए ताकि दुकानदारों को दुकान का आवंटन समय पर हो जाये। सभी दुकानों में डस्टबिन रखवाना होगी।समिति की बैठक में तय किया गया कि विगत वर्ष की भाँति इस वर्ष भी मौत का कुंआ का आयोजन नहीं किया जायेगा।

एसडीआरएफ की टीम तैनात रहेगी

कलेक्टर ने सीईओ जनपद को निर्देशित किया कि नर्मदा नदी के दोनों तरफ और भीड़- भाड़ वाले स्थानों पर अस्थाई शौचालय, रनिंग वॉटर व समुचित साफ- सफाई सुनिश्चित की जायेगी। स्वच्छता समिति बरमान साफ- सफाई की निगरानी करेगी। दुकानदार लाउड स्पीकर के प्रयोग के लिए अनुमति लेंगे।

साथ ही आपको बता दे की होमगार्ड द्वारा तैराकों एवं स्थानीय गोताखोरों की व्यवस्था की जायेगी, उन्हें प्रशिक्षण एवं जैकेट दिये जायेंगे। एसडीआरआफ की टीम भी तैराक दल के साथ तैनात रहेगी। मेला स्थल पर स्नान करने वालों की सुरक्षा के लिए मज़बूत लोहे की जालियां एवं संकेतक लगाये जायेंगे। नर्मदा नदी में गहराई प्रदर्शित करने के लिए लाल रंग की झंडियां एवं फ्लेक्स भी लगाई जायेंगी।

यह भी देखे : Sukanya Samriddhi Yojana अब सरकार आपकी बेटी को देगी 67 लाख रुपए जाने

विभिन्न विभागों की प्रदर्शनी लगाई जायेगी

आपको बता दे की मेला स्थल पर विभिन्न विभागों की प्रदर्शनी लगाई जायेगी। बसों में ओव्हरलोडिंग रोकने के लिए जिला परिवहन अधिकारी आवश्यक प्रबंध करेंगे। साथ ही नेशनल हाईवे सड़क मार्ग पर गन्ने की ट्रॉलियाँ खड़ी नहीं रहें आपको बता दे की मेला स्थल पर कार्यपालिक दंडाधिकारियों की ड्यूटी लगाई जायेगी। बरगी बांध से जल छोड़े जाने से पहले सूचना दी जाये। मेला स्थल पर पर्याप्त चिकित्सकों की ड्यूटी आवश्यक औषधियों के साथ लगाई जायेगी। एम्बुलेंस की व्यवस्था मय चिकित्सक के रहें।पर्याप्त संख्या में स्वास्थ्य विभाग का अमला मेला परिसर में मौजूद रहेगा बही इस आशय के निर्देश सीएमएचओ को दिये।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Sharing Is Caring:

Leave a Comment